Hosting
Shared Hosting

हमने आपको पिछले पोस्ट में बतया था कि वेब होस्टिंग क्या है और उसके बाद क्लाउड होस्टिंग के बारे में बताया था अगर आप ने इन सभी पोस्ट को रीड नही किया है तो सबसे पहले इन सभी पोस्ट को पढ़ ले।

सभी न्यू ब्लोग्गेर्स अगर wordpress पर आते है उनको इसपे ब्लॉग बनाने के लिए होस्टिंग की जरूरत पड़ती है। जो शरुआती ब्लॉगर्स के लिए shared Hosting बेस्ट माना जाता है इस पोस्ट हम Shared Hosting के बारे में बात करेंगे कि Shared Hosting क्या है।,यह कैसे काम करता है। तो चलिए जानते है।

Shared Hosting क्या है।

जैसे कि आप इसके नाम से जान गए होंगे कि Shared Hosting क्या है। इस होस्टिंग में बहुत से वेबसाइट को एक ही सर्वर पर होस्ट किया जाता है मतलब की इस होस्टिंग में बहुत सारे वेबसाइट को होस्ट किया जाता है और इन सभी वेबसाइट को एक सर्वर पर चलाया जाता है जिसके वजह से यह शरुआती के लिए तो ठीक है लेकिन ज्यादा विजिटर होने के वजह से वेबसाइट offline हो जाता है।

What Is Domain Name Privacy In Hindi

Shared Hosting काम कैसे करता है।

जैसा कि हमने ऊपर में बताया कि यह एक ऐसा होस्टिंग जहा पर बहुत सारे वेबसाइट को एक ही सर्वर पर होस्ट किया जाता है। यह होस्टिंग एक मशीन पर काम करता है जो एक dedicated सर्वर के समान है। लेकिन इसके संसाधनों का उपयोग बहुत से अधिक ग्राहक द्वारा करते है। यह shared होस्टिंग होने के यह मतलब नही है कि सभी चीजें को शेयर किया जाता है। प्रत्येक वेबसाइट उपयोगकर्ता खाते की फाइलें और किसी भी एप्लिकेशन को सर्वर पर अलग-अलग विभाजनों में संग्रहीत किया जाता है और प्रत्येक की अपनी फ़ाइल निर्देशिका ट्री होती है। उपयोगकर्ताओं के पास रूट या एक-दूसरे की फ़ाइलों तक पहुंच नहीं है। साझा सर्वर पर सभी खाते वेब सर्वर के कंप्यूटिंग संसाधनों को साझा करते हैं।

Shared Hosting के प्रकार,

जब आप शेयर होस्टिंग को खरीदते है तो आपको इसमे दो प्रकार का ऑप्शन मिलेगा

1.Linux Shared Hosting:-

2.Windows Shared Hosting

आप जब होस्टिंग के मामले में नए है तो आप कंफ्यूज हो जाएंगे कि दोनों में कौन सा होस्टिंग को सेलेक्ट किया जाए। तो में आपको बताता हूं की आप लिनक्स शेयर्ड होस्टिंग को सेलेक्ट करें क्योंकि यह सबसे ज्यादा पॉपुलर है बस इन दोनों होस्टिंग में इतना फर्क है कि लिनक्स शेयर्ड होस्टिंग में हमें Cpanel panel कंट्रोल मिलता है क्योंकि यह सबसे पॉपुलर है। जबकि विंडोज शेयर्ड होस्टिंग में Plesk Panel कंट्रोल मिलता है। बस इन दोनों में इतना ही फर्क है।

Shared Hosting के फायदे।

Shared होस्टिंग के बहुत से फायदे है तो चलिए इसके मूलभूत फायदे के बारे में जानते है।

*यह कम खर्चिला है।:- सभी न्यू शरुआती wordpress ब्लोग्गेर्स के लिए ये बहुत अच्छा होस्टिंग है। यह आपको इंडिया में बहुत कम दाम में मिल जाएगा।

*यह लचीला है।;- यह होस्टिंग का उपयोग करना बहुत आसान है। जब हमें जरूरत पड़ेगी तो हम बिना किसी परेशानी के माइग्रेट कर सकते है।

*Manage करना आसान है।:- यह होस्टिंग सभी न्यू वर्डप्रैस ब्लॉगर के लिए अच्छा है इस होस्टिंग में बिना कोई ज्यादा जानकारी के सेटअप कर सकते है।

* कई डोमेन होस्ट कर सकते है।:- आप अपने pay के अनुसार होस्टिंग पर डोमेन ऐड कर सकते है। Shared Hosting में आप कई डोमेन को होस्ट कर सकते है।

*यह पूर्ण रूप manage है।:- हा ये भी सच है कि यह पूरे तरह से मैनेज होता है इसमें हमे कोई ज्यादा जानकारी की जरूरत नही पड़ती है बस एक बार सेटअप करने के बाद इसे होस्टिंग प्रोवाइडर पर छोड़ देते है।

Darknet क्या है। डार्कनेट की पूरी जानकारी हिंदी में।

Shared Hosting के नुकसान

जहा Shared Hosting के फायदे है वहाँ पर Shared Hosting के कुछ नुकसान है और वो नुकशान क्या है। चलिए हम नीचे जानते है।

* एक ही सर्वर पर सभी वेबसाइट होस्ट:- शेयर होस्टिंग पर सभी वेबसाइट को एक ही होस्टिंग पर होस्ट किया जाता है जिसके वजह से ज्यादा ट्रैफिक आने पर वेबसाइट offline हो जाता है।

* ट्रैफिक मैनेज:- शेयर होस्टिंग पर एक बड़ा प्रॉब्लम यह कि अगर आपके वेबसाइट पर ज्यादा ट्रैफिक आने लगते है तो आपका वेबसाइट लाइव होना बंद हो जायेगा जो यह सबसे बड़ी प्रॉब्लम है।

अगर आप अभी वर्डप्रेस पर नए है और उसके लिए होस्टिंग ढूंढ रहे है तो सबसे पहले आप Shared Hosting को सेलेक्ट करें। जब आपकी वेबसाइट पर ज्यादा ट्रैफिक आने लगेंगे तो आप दूसरे होस्टिंग पर माइग्रेट कर सकते है।

अगर आप होस्टिंग खरीदने के बारे में प्लान कर रहे है तो आप एक बार मुझसे कांटेक्ट करें में आपको 30-40% छूट दिला दूंगा।

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है कि आपको हमारा पोस्ट अच्छा लगा होगा अगर आपके पास कोई सवाल है तो आप नीचे कमेंट करें।?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here